वर्तमान गतिविधियां

24-11-2017

 श्री अर्जुन राम जी मेघवाल,

राज्य मंत्री, जल संसाधन विभाग,

भारत सरकार, नई दिल्ली

 

महोदय,
आपके विभाग के केबीनेट मंत्री श्री नितिन गड़करी जी नये राष्ट्रीय राजमार्ग स्वीकृत करने एवम राजमार्गो के विकास के लिए धनराशि स्वीकृत करने मे बड़े उदार है। उन्होंने इस मामले मे किसी को निराश नही किया है। एक ही विभाग के होने के कारण आपका उनसे सानिध्य स्वाभाविक है एवम प्रकटत: ही है। ऐसी स्थिति मे आप भी अपने क्षेत्र को विभिन्न दिशाओं मे जोड़ने के लिए कुछ राष्ट्रीय राजमार्ग स्वीकृत करवाये। बीकानेर-अनुपगढ-गंगानगर, नोखा-सुजानगढ-सीकर,  डूंगरगढ़-सरदारशहर-राजगढ़, झझर (हरियाणा)  बीकानेर को महत्त्वपूर्ण  शहरों से जोड़ने वाले मार्ग है ।

 राजा राम मील

अध्यक्ष, राजस्थान जाट महासभा

 

दिनांक 14-11-2017

प्रधान मंत्री जी,                 

भारत सरकार

 नई दिल्ली

            विषय :- राज्य लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष सदस्यों की आयु 65 वर्ष करने के सम्बन्ध मे ।

महोदय,

            राज्य लोक सेवा आयोगों के सदस्यों और  आध्यक्ष का सेवा कार्यकाल संविधान मे छ वर्ष या 62 वर्ष, जो भी पहले हो है। आयोग के आधे सदस्य सेवा निवर्त लोक सेवक होने की भी शर्त है। कोई भी व्युरोक्रेट सेवा निवर्ती से पूर्व आयोग का सदस्य या अध्यक्ष नही बनना चाहता और सेवा निवर्ती के पश्चात सभी आयोग मे जाना चाहते है। लोक सेवक सेवा निवर्ती के चार छ माह बाद नियुक्ति पाते है तो वे केवल एक डेढ वर्ष ही आयोग मे रह पाते है। इस एक  डेढ वर्ष के कार्य काल मे उन्हें आयोग की कार्य प्रणाली  का  अनुभव नही होने के कारण साक्षात्कार के अलावा आयोग के अन्य कार्य  सम्पादन के लिये वे आयोग के अधीनस्थ कार्मिको  पर ही निर्भर रहते है। इस प्रकार आयोग अधीनस्थ कार्मिको के भरोसे ही चलता है  तथा कार्मिक इस स्थिति का फ़ायदा उठाते हुए पेपर सेटिंग व छपाई, उत्तर पुस्तिका जांच, परिणाम तैयार करना इत्यादि कार्यों मे जमकर धाँधली और भ्रटाचार करते है। अभ्यार्थियों की कापियाँ बदलते हैं, प्राप्तांक चढ़ाने मे हेराफेरी करते हैं।     अत: हमारा सुझाव है कि आयोग के सदस्यों और अध्यक्ष की सेवा निवर्ती/ कार्यकाल  “छ वर्ष या 65 वर्ष की उम्र जो भी पूर्व हो “ की जानी चाहिये जिससे की  एक वर्ष  के अनुभव के पश्चात वे आयोग के कार्य पर पूरा नियंत्रण रखकर कार्य कर सकें।

                                    सादर

राजा राम मील

अध्यक्ष, राजस्थान जाट महासभा

 

 

10-11-2017

 श्री पीयुष गोयल,                                        

 रेल मंत्री भारत सरकार,

 नई दिल्ली

विषय :-  सैनिकों के लिए रेल सेवा

महोदय,

      आप जानते ही हैं कि हमारे सेन्य व अर्धसेनिक बलों की एक बड़ी संख्या कश्मीर मे तैनात है। ये सेनिक देश की रक्षा के लिए दिन रात समर्पित होकर सेवा दे रहे। ये अपने परीवार से दूर रहते हैं। ये सेनिक वर्ष  मे दो तीन बार अपने घर अवकाश पर आते है जिसके लिए इन्हे यात्रा का निःशुल्क  रेलवे वारण्ट मिलता है। कश्मीर मे फ़िलहाल जम्मू से रेल मिलती है। जम्मू से आरक्षित सीटें पर्याप्त मात्रा मे नही होने के कारण इन्हे रिज़र्वेशन तथा वारण्ट की इन्टरी कराने मे बड़ी कठिनाई होती है तथा रिश्वत भी देनी पड़ जाती है। इस परेशानी से बचने के लिए पंजाब, हरियाणा राजस्थान के कुछ सेनिक ख़ुद के ख़र्चे पर बसो से यात्रा करने को भी मजबूर होते है। देश के अन्य भागो के अलावा पंजाब हरियाणा, उतरी एवम पश्चमी राजस्थान के सेनिको की संख्या ज़्यादा है।

       उपरोक्त परिपेक्ष्य मे निवेदन है कि जम्मू से एक ट्रेन हिसार -लुहारू -सीकर  तथा दूसरी ट्रेन जम्मू से बीकानेर – जोधपुर के लिए हफ़्ते मे एक एक दिन के लिए चलाई जावे जिसमें सेनिको के आरवण की विशेष व्यवस्था हो।

राजा राम मील

अध्यक्ष, राजस्थान जाट महासभा

 

 

 Date:   10-11-2017

 श्री मनोहर लाल खट्टर, 

मुख्य मंत्री  हरियाणा,

चण्डीगढ़
महोदय,

            भारत सरकार इन दो वर्षों मे एक लाख किलोमीटर नये राजमार्ग स्वीकृत कर रही है। हरियाणा के दक्षिणी भाग मे पूर्व -पश्चिम अर्थात देहली से राजस्थान की तरफ कोई राष्ट्रीय राजमार्ग नही है जबकि इस क्षेत्र मे निम्न शहरों के मध्य राजमार्ग होने  चाहिये-

 द्वारका (देहली) – फारूकनगर-महेन्द्रगढ -चिड़ावा ( राजस्थान )

 नजफगढ- झझर - लोहारू

 झझर - राजगढ़ ( शादुलपुर  ) बीकानेर

इन राजमार्गो की स्वीकृति से इस क्षेत्र का आवागमन सुगम होगा, राजस्थान से सम्पर्क बनेगा, क्षेत्र के विकास के द्वार खुलेंगे तथा इनके निर्माण और रखरखाव के लिए राज्य को बजट भी मिलेगा।

अत: हमारा निवेदन है कि इन राजमार्गो के प्रस्ताव भारत सरकार को भेजकर  स्वीकृत करवाये ।

सादर

राजा राम मील

अध्यक्ष, राजस्थान जाट महासभा
nitin gadkari 001

cm 001 arjun ji 001

 

scan0001scan0002

नहरों से पेयजल के लिए सप्लाई हो रहे जल को साफ करने के लिए पंजाब, राजस्थान एवं हरियाणा के मुख्यमंत्रियों को लिखा गया पत्र

scan0005

झुंझुनू जिले को राजधानी एरिया में सम्लित करने के समन्ध में

scan0003

ओबीसी वर्ग के आरक्षण के बारे मुख्यमंत्री को लिखा  गया पत्र

scan0002

किसानो की समस्याओ के बारे में मुख्यमंत्री को लिखा गया पत्र

scan0001

खाद्य पदार्थो में मिलावट के समन्ध में श्री सी आर चौधरी मंत्री उपभोक्ता मामले, भारत सरकार को लिखा गया पत्र

scan0002

scan0003

देश में रास्ट्रीय खेल संस्थान खोलने के समंध में प्रधानमंत्री को लिखा गया पत्र

scan0001

RAS मुख्य परीक्षा एवं पटवारी pri में ओबीसी वर्ग  के साथ हुये अन्याय के संबध में मुख्यमंत्री को पुनः लिखा गया पत्र

scan0010scan0011

राजस्थान में नेशनल खेल संस्थान खोलने के लिए खेल मिनिस्टर को लिखा गया पत्र

scan0009

शेखावाटी में गिरते भूजल के बारे मुख्यमंत्री को लिखा गया पत्र

scan0005

राजस्थान जाट महासभा द्वारा दिनाक १७-६-२०१६ को आरक्षण के संबध में RAS मुख्य परीक्षा एवं पटवारी pri में ओबीसी के साथ हुये अन्याय के संबध में मुख्यमंत्री को दिया गया पत्र

aarakshan1

aarakshan2

किसानों के हित में मुख्यमंत्री को दिया गया पत्र

 

 

 

chabmal

scanobc0001scan0003

scan0004

scan0005

scan0007

 

scan0007